15 दिनों में शुरू होगा रतलाम में प्रतिदिन जल प्रदाय : विधायक काश्यप, दीपावली मिलन समारोह में कहा

0

News by- नीरज बरमेचा 

  • सड़कों का निर्माण, गोल्ड कॉम्पलेक्स व निवेश क्षेत्र विकसित होगा

रतलाम 12 नवम्बर/ विधायक चेतन्य काश्यप ने कहा कि दीपावली से 15 दिनों के भीतर रतलाम शहर में प्रतिदिन जल वितरण करने का कार्य शुरू कर दिया जाएगा। इस कार्य की तैयारियां अंतिम चरण में है। बिबड़ोद के समीप विशेष निवेश क्षेत्र का विकास होगा, गोल्ड कॉम्पलेक्स के काम में भी तेजी लाई जाएगी और सड़कों का निर्माण कराया जाएगा।

काश्यप ने विधायक जनसम्पर्क कार्यालय पर आयोजित दीपावली मिलन समारोह में पत्रकारों को संबोधित करते हुए बताया कि कोरोना काल के चलते इस वर्ष में शहर ने कई उतार-चढ़ाव देखे हैं, लेकिन प्रदेश में सत्ता परिवर्तन के बाद मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान के नेतृत्व में सरकार बनते ही व्यवस्थाओं को सुचारू करने का सिलसिला शुरू हो गया था। मार्च में कोरोना की दस्तक के बाद रतलाम मेडिकल कॉलेज में आरटीपीसीआर मशीन लाई गई और उसे एक माह में ही स्थापित कराकर जांच आरंभ कराई गई। मेडिकल कॉलेज में कोविड केयर हॉस्पिटल शुरू किया गया, जिससे रतलाम जिले सहित मंदसौर, नीमच एवं झाबुआ जिले के नागरिकों को लाभ मिला।

काश्यप ने बताया कि कोरोना काल में लॉकडाऊन के दौरान जरूरतमंदों की मददके कई कार्य किए गए। चेतन्य काश्यप फाउण्डेशन से राशन कीट एवं भोजन पैकेट वितरण किए गए, जिससे कोई गरीब तकलीफ में नहीं रहा। लॉकडाऊन खुलने के बाद शहर की अर्थव्यवस्था तेजी से पटरी पर आ रही है। विधायक के रूप में उनकी पहली प्राथमिकता शहर के विकास की गति को फिर तेज करना रहेगा। 

उन्होंने बताया कि मेडिकल कॉलेज के डीन एवं कलेक्टर से चर्चा कर 750 बिस्तरों वाले सुपर स्पेशलिटी हॉस्पीटल को आरंभ करने की योजना बनाई है।इस कार्य में शहर 6 महीने पिछड़ गया है लेकिन उम्मीद है कि मार्च तक हॉस्पीटल शुरू हो जाएगा। बहुप्रतिक्षित रिडेंसीफिकेशन योजना को आगे बढ़ाया जाएगा और इसके तहत्‌  गोल्ड कॉम्पलेक्स निर्माण होगा और रतलाम के प्रसिद्ध स्वर्ण व्यवसाय को नई ऊंचाईयां मिलेगी। इसके साथ ही जिला अस्पताल का नया 300 बिस्तरों वाला भवन बनाया जाएगा। प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत् बीएलसी घटक के 5 हजार परिवारों को आवास के लिए ढाई-ढाई लाख रुपए दिए गए हैं।

शहर में 550 परिवार ऐसे हैं जिन्हें पट्टे नहीं दिए जा सकते उनके लिए डोसी गांव में अर्फोडेबल हाऊस बन गए हैं। इस वर्ष 20 लोगों को गृह प्रवेश करवाया है और कुछ ही दिनों में 120 परिवारों को गृह प्रवेश करवाएंगे। इस श्रेणी में चेतन्यकाश्यप फाउण्डेशन से 450 हितग्राहियों को 45 लाख रुपए की मदद मार्जिन मनी भरने में की जा रही है। इसके अलावा 2 से 3 हजार मध्यमवर्गीय परिवारों के लिए अफोर्डेबल हाऊस और बनाए जाएंगे, जिससे झुग्गी मुक्त रतलाम और सबको आवास की परिकल्पना साकार होगी। 

काश्यप ने कहा कि कुपोषण से रतलाम को मुक्त करने का अभियान भी फिर शुरू किया है। इसके तहत् अति कुपोषित बच्चों को उनके फाउण्डेशन द्वारा पोषण आहार दिया जा रहा है। 310 में से 170 बच्चों का वजन पिछले माह में 250 ग्राम से अधिक बढ़ा है। अगले दीपावली पर्व तक पूरे शहर को कुपोषण मुक्त बनाने का लक्ष्य है, जिससे यह अभियान भविष्य में देश के लिए उदाहरण बनेगा।

काश्यप ने बताया कि रतलाम के पास से 8 लेन एक्सप्रेस वे गुजर रहा है। उन्होंने इस एक्सप्रेस वे के पास बिबड़ोद से जुलवानिया तक 10 स्क्वेयर किमी में विशेष निवेश क्षेत्र विकसित करने का प्रस्ताव भेजा है। जिसे प्रमुख सचिव उद्योग ने सैद्धांतिक रूप से स्वीकृति दे दी है। इस संबंध में केन्द्रीय मंत्री  नीतिन गडकरी को भी चिट्ठी लिखी गई है। जिसमें विशेष निवेश क्षेत्र को एक्सप्रेस-वे से जोड़कर देश-विदेश के निवेशकों को आकर्षित करने का आग्रह किया गया है।

समारोह में भाजपा जिलाध्यक्ष राजेन्द्रसिंह लुनेरा एवं रतलाम प्रेस क्लब अध्यक्ष राजेश जैन ने भी शुभकामनाएं दी। इस दौरान म.प्र. श्रमजीवी पत्रकार संघ के प्रदेश कार्यकारी अध्यक्ष शरद जोशी, भाजपा जिला महामंत्री मनोहर पोरराल, प्रदीप उपाध्याय, पूर्व महापौर शैलेन्द्र डागा, पूर्व निगम अध्यक्ष अशोक पोरवाल, मंडल अध्यक्ष जयवंत कोठारी, निलेश गांधी, मयूर पुरोहित, करणधीर बड़गोत्या, जिला मीडिया प्रभारी अरूण राव आदि मौजूद थे।

सड़कों का जीर्णोद्धार एवं नव निर्माण होगा

दीपावली मिलन समारोह में विधायक काश्यप ने शहर की ज्वलंत सड़क समस्या के संबंध में कहा कि सीवरेज प्रोजेक्ट का कार्य जल्द पूर्ण कराना और इसके बाद पाईप लाईन एवं सीवरेज के लिए खोदी गई सड़कों का निर्माण कराना प्राथमिकता में है। सीवरेज एवं पाईप लाईन के लिए खोदी सड़कों का सर्वत्र जीर्णोद्धार कराया जाएगा। आवश्यकता अनुसार इनका नव निर्माण भी होगा। इसके लिए राज्य सरकार से राशि लाने के साथ-साथ अर्थव्यवस्था हेतु नगर निगम की सम्पत्तियों को बेचने की प्रक्रिया शुरू की गई है। निगम सम्पत्तियों से मिलने वाली आय एवं शासन से राशि प्राप्त कर सड़कों की समस्या का निदान हर हाल में किया जाएगा।

कालिका माता मंदिर का मास्टर प्लान बनेगा

विधायक काश्यप ने बताया कि कालिका माता मंदिर का नव निर्माण एवं परिसर का विकास करने हेतु मास्टर प्लान बनाया जाएगा। इसके लिए उज्जैन में मंगल नाथ मंदिर का कार्य करने कंसलटेन्ट से चर्चा की गई है। गुजरात के अंबाजी मंदिर की तरह रतलाम के प्रसिद्ध स्थल को विकसित किया जाएगा। यह कार्य आगामी 2-3 वर्षों में करना प्रस्तावित है।