नेताजी का नाम भूले सांसद, कहा- चंद्रशेखर आजाद की जयंती मना रहे हम

0

इंदौर. नेताजी सुभाषचंद्र बोस की जयंती के मौके पर देशभर में कार्यक्रम हुए. बंगाल में विधानसभा चुनाव को देखते हुए बीजेपी ने इन आयोजनों में बढ़-चढ़कर भाग लिया. इसी क्रम में मध्य प्रदेश के इंदौर में भी जयंती समारोह मनाया गया. कार्यक्रम में इंदौर के सांसद शंकर लालवानी भी पहुंचे, लेकिन अपने संबोधन के दौरान वे ‘नेताजी’ की जयंती पर उनका ही नाम भूल गए.कार्यक्रम में उन्होंने नेताजी की जगह अमर शहीद चंद्र शेखर आजाद का नाम लिया. हालांकि, सांसद ने तुरंत गलती सुधार ली.

सांसद शंकर लालवानी नेताजी सुभाष चंद्र बोस की जयंती पर कई कार्यक्रमों में शामिल हुए. उन्होंने कहा- नेताजी ने अंग्रेजों की नौकरी छोड़कर देश सेवा के लिए काम किया. देश की आजादी के लिए लड़ाई लड़ी. जब अंग्रेजी सेना उनके पीछे पड़ी तो वेश बदलकर देश से बाहर गए और वहां पर अपनी सेना खड़ी की. उन्होंने वहां आजाद हिंद फौज की रचना की. इन सैनिकों ने भारत में अंग्रेजों के छक्के छुड़ा दिए. ऐसे नेताजी चंद्र शेखर आजाद… चंद्र शेखर बोस की हम जयंती मना रहे हैं. इस मौके पर यही कहूंगा कि जिस प्रकार उन्होंने देश के लिए अपने प्राण न्यौछावर किए. उसी प्रकार से हमें अपने शहर और देश के उत्थान के लिए पसीना बहाना चाहिए.

युवाओं से की रक्त दान की अपील

मालवा संस्कृति मंच के कार्यक्रम में सांसद ने रक्तदान पर जोर दिया. उन्होंने कहा कि देश के युवाओं को रक्तदान के लिए आगे आना चाहिए. अब भी देश में ऐसी विषम परिस्थितियां बन जाती हैं कि रक्त की जरूरत पड़ती है. रक्त दान से समाज को समस्या का समाधान मिल सकता है. लालवानी ने यहां खुद भी रक्तदान किया.