रतलाम में कोरोना की स्थिति भयावह, जिम्मेदारों की गैर जिम्मेदारी और अव्यवस्थाओं के खिलाफ पत्रकार हुए लामबंद

0

News By – नीरज बरमेचा

  • केंद्र और राज्य के जिम्मेदारों को आज पत्र लिखकर बताएं वास्तविकता

रतलाम । कोरोना वायरस के संक्रमण के चलते रतलाम जिले की स्थिति भयावह होती जा रही है। बावजूद जिला प्रशासन, स्वास्थ्य विभाग और रतलाम मेडिकल कॉलेज प्रबंधन में समन्यव का अभाव होकर अव्यवस्थाओं के नियंत्रण में असफल साबित हो रहे हैं। इससे आमजन मानस में असुरक्षा का भाव उत्पन्न हो गया है और लोगों में आक्रोश भी पनपने लगा है। इस प्रतिकूल परस्थिति के मद्देनजर रतलाम प्रेस क्लब कार्यसमिति एक आपात बैठक वरिष्ठ सदस्यों की मौजूदगी में मंगलवार को प्रेस क्लब भवन मे आहूत की गई। इसमें पत्रकारों ने चिंता व्यक्त करते हुए जिम्मेदारों की अकर्मण्यता पर नाराजगी जताई। प्रदेश और राष्ट्रीय स्तर शासन-प्रशासन को वास्तविकता से अवगत कराने का निर्णय लिया गया।

कोरोना प्रोटोकॉल का पालन करते हुए आहूत हुई बैठक में शहर में बढते कोरोना के प्रकोप और लचर स्वास्थ सेवाओं तथा मीडिया और आम जनमानस से जिला एवं स्वास्थ प्रशासन के असमन्वय को लेकर चर्चा की गई। बैठक में स्वास्थ सेवाओं से संबंधित उजागर हो रहीं कमियों एवं आमजन को हो रही परेशानियों को लेकर मुख्यमंत्री तथा केंद्रीय स्वास्थ मंत्रालय दिल्ली को पत्र लिखने का निर्णय लिया गया। इसमें शहर में बढ़ रहे कोरोना संक्रमण के बावजूद स्वास्थ सेवाओं के गिरते स्तर, आम जनता को जागरूकता व समन्वय का अभाव तथा मीडिया को सही समय पर जरूरी जानकारी नहीं देने की विस्तृत जानकारी दी जाएगी। बैठक में सभी सदस्यों ने मेडिकल कॉलेज में स्टाफ की कमी, सिटी स्कैन मशीन की कमी, निजी सिटीस्कैन सेंटरों पर मनमर्जी दर पर रोक लगाने, न्यूनतम एवं समान दर तय करने, मेडिकल कॉलेज में मरीजों के लिए मोटिवेशनल स्पीच एवं मनोरंजन के साधन मुहैया करवाने, जिला कोविड प्रभारी की नियुक्ति करने, कोविड मरीजों के परिजनों को मरीज की स्थिति की प्रतिदिन चार बार जानकारी दिलवाने, कोरोना से दिवंगत हुए पत्रकारों को आर्थिक सहायता उपलब्ध करवाने तथा धार्मिक, सामाजिक कार्यक्रमों की तरह राजनीतिक कार्यक्रमों में भी कोरोना प्रोटोकॉल का पालन करवाने हेतु तत्कल कार्रवाई करने की मांग की गई। बैठक में अध्यक्ष राजेश जैन ने उपस्थित सदस्यों से शहर में कोरोना को लेकर नाकाफी प्रशासनिक एवं स्वास्थ प्रबंधन के संबंध में अपने-अपने विचार एवं सु­ााव रखने की बात कही।

इस पर वरिष्ठ पत्रकार एवं पूर्व अध्यक्ष शरद जोशी, रमेश टांक, गोविंद उपाध्याय, सचिव मुकेशपुरी गोस्वामी, उपाध्यक्ष राकेश पोरवाल, कोषाध्यक्ष भेरूलाल टांक, पूर्व अध्यक्ष सुरेंद्र जैन, वरिष्ठ पत्रकार तुषार कोठारी, नरेंद्र जोशी, नीरज शुक्ला, इंगित गुप्ता, विजय मीणा, मुबारिक शेरानी, अशोक शर्मा, नरेंद्र अग्रवाल, जितेंद्रसिंह सोलंकी, हरीवंश शर्मा, हिमांशु जोशी, सौरभ पाठक, सिकंदर पटेल, नीरज बरमेचा, अदिति मिश्रा, उत्तम शर्मा, पवन शर्मा आदि ने  विचार व्यक्त किए। सभी सदस्यों ने वर्तमान हालातों पर चिंता जाहिर करते हुए उच्चस्तर से आमजन के स्वास्थ के लिए हस्तक्षेप करने के लिए पत्र लिखने का निर्णय लिया। बैठक के अंत में वरिष्ठ पत्रकार गोपाल सिंह कुशवाह के निधन पर श्रद्धांजलि अर्पित की गई।

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here