जलापूर्ति के लिए निगम का अमला 24 घंटे काम करें, यह अंतिम बैठक, व्यवस्था नहीं सुधरी तो कार्रवाई

0

News By – नीरज बरमेचा 

रतलाम 20 जुलाई 2021/ रतलाम शहर में विगत कुछ दिनों से जल प्रदाय में परिलक्षित बाधा एवं व्यवस्था में सुधार के दृष्टिगत कलेक्टर कुमार पुरुषोत्तम ने एक विशेष बैठक नगर निगम तथा विद्युत वितरण कंपनी के साथ आयोजित की। बैठक में कलेक्टर ने निर्देश दिए कि शहर में सुचारू जल प्रदाय व्यवस्था के लिए नगर निगम का अमला 24 घंटे कार्य करें, लोगों की समस्या शिकायत सुने। कलेक्टर ने चेतावनी दी कि यह बैठक अंतिम बैठक है यदि जल प्रदाय व्यवस्था में सुधार नहीं किया गया तो फिर निगम के जिम्मेदार अधिकारियों के विरुद्ध कार्रवाई की जाएगी। बैठक में निगमायुक्त सोमनाथ झारिया, विद्युत वितरण कंपनी के अधीक्षण यंत्री सुरेश वर्मा, नगर निगम के प्रभारी कार्यपालन यंत्री मोहम्मद हनीफ शेख, सहायक यंत्री जे.एस.आचार्य आदि उपस्थित थे।

कलेक्टर ने निर्देश दिए कि सुचारू जल प्रदाय के लिए शिकायत एवं समस्याओं की जानकारी तथा उनके निराकरण हेतु कॉल सेंटर स्थापित किया जाए। निगम का अमला सतत मॉनिटरिंग करते हुए प्रतिदिन देखें कि शहर की कौन सी टंकी में जलभराव किया गया है और कौन सी टंकी में पानी नहीं पहुंचा और क्यों नहीं पहुंचा। इस बाबत प्रभारी कार्यपालन यंत्री शेख को निर्देशित किया। सुचारू व्यवस्था के दृष्टिगत कलेक्टर द्वारा दो उपयंत्रियो भैयालाल चौधरी, सुहास पांडे को वैक्सीनेशन ड्यूटी से भी मुक्त कर दिया गया।

कलेक्टर ने निर्देश दिए कि निगम की जल वितरण व्यवस्था ठीक नहीं है उसको सुधारने के लिए प्लान करें। सिस्टम की खामियों को दूर करें प्रयास किया जाए कि लीकेजेस नहीं हो। बताया गया कि अभी 20-25 लीकेज प्रतिदिन सुधारा जा रहे हैं। कलेक्टर ने यह भी पूछा कि गंदा पानी क्यों आ रहा है, ड्रेनेज सिस्टम में गंदे जल के भराव को रोकने के इंतजाम किए जाएं। सतत जलापूर्ति के लिए बिजली की उपलब्धता सुनिश्चित करने हेतु अधीक्षण यंत्री विद्युत को निर्देशित किया कि तीन-चार दिनों में जो भी मेंटेनेंस अथवा अन्य कार्य है उनको पूर्ण किया जाए।

बैठक में बताया गया कि नगर निगम के मोरवानी फिल्टर प्लांट की व्यवस्था को सुधारना आवश्यक है। विद्युत वितरण कंपनी के अधीक्षण यंत्री द्वारा बताया गया कि मोरवानी में 2 वैक्यूम सर्किट ब्रेकर बदले जाना है जिसकी वजह से निर्बाध विद्युत आपूर्ति धोलावाड़ तक संभव हो सकेगी। अभी मोरवानी में वेक्यूम सर्किट ब्रेकर पुराने हो जाने के कारण कोई भी फाल्ट आने पर धोलावाड़ तक विद्युत समस्या आती है जिसके निराकरण के लिए नवीन वेक्यूम सर्किट ब्रेकर लगाए जाएं। कलेक्टर द्वारा निगमायुक्त को तत्काल नवीन सर्किट ब्रेकर क्रय करने के निर्देश दिए गए।
कलेक्टर में अधीक्षण यंत्री से कहा कि विगत 14 जून से लेकर 18 जुलाई तक 18 बार विद्युत ट्रिपिंग देखने में आई है। अधीक्षण यंत्री उक्त समस्या का तत्काल निराकरण करें ताकि जल आपूर्ति में बाधा नहीं आए।


https://chat.whatsapp.com/JApAT4AHODl9bn6eoTX5PN
न्यूज़ इंडिया 365 के व्हाट्सएप ग्रुप में जुड़ने और महत्वपूर्ण समाचारों के साथ अपने को अपडेट रखने के लिए, ऊपर दी गई लिंक पर क्लिक करे।
आप स्वयं जुड़े और अपने मित्रों साथियों को भी जोड़े|

  • पेयजल टंकी निर्माण में गड़बड़ी की जांच के कलेक्टर ने दिए आदेश
  • जिला पंचायत सीईओ जांच हेतु नोडल अधिकारी नियुक्त

रतलाम 20 जुलाई। कलेक्टर कुमार पुरुषोत्तम ने सैलाना जनपद पंचायत के ग्राम नारायणगढ़ में निर्मित पेयजल टंकी निर्माण में गड़बड़ी की शिकायत पर जांच के आदेश दिए हैं ।शिकायत की जांच हेतु जिला पंचायत सीईओ मीनाक्षी सिंह को नोडल अधिकारी नियुक्त किया गया है।

जनपद पंचायत सैलाना के ग्राम नारायणगढ़ के नागरिकों द्वारा शिकायत की गई थी कि ग्राम पंचायत नारायणगढ़ में निर्मित पेयजल टंकी के निर्माण हेतु 75 लाख की स्वीकृति लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग द्वारा दी गई थी। इसका री-स्टीमेट तैयार कर 50 लाख रुपए अतिरिक्त राशि बिना टेंडर प्रक्रिया का पालन करते हुए बालाजी एजेंसी को दी गई तथा इसमें भ्रष्टाचार किया गया। कलेक्टर द्वारा इस पर कार्रवाई करते हुए जिला पंचायत सीईओ को एक सप्ताह में शिकायत की जांच कर स्पष्ट अभिमत सहित जांच प्रतिवेदन प्रस्तुत करने के निर्देश दिए हैं।


https://chat.whatsapp.com/JApAT4AHODl9bn6eoTX5PN
न्यूज़ इंडिया 365 के व्हाट्सएप ग्रुप में जुड़ने और महत्वपूर्ण समाचारों के साथ अपने को अपडेट रखने के लिए, ऊपर दी गई लिंक पर क्लिक करे।
आप स्वयं जुड़े और अपने मित्रों साथियों को भी जोड़े|

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here