रतलाम की स्वर्णा ने बढ़ाया प्रदेश का मान, वलसाड की पहली महिला लोको पायलट बनी…

0

News By – नीरज बरमेचा 

मध्यप्रदेश के रतलाम में जिले की स्वर्णा सोनी गुजरात के वलसाड में पहली लोको पायलट बन गई हैं। उनकी इस उपलब्धि ने प्रदेश के साथ ही रतलाम जिले का नाम भी रोशन कर दिया है। सवर्णा 2016 में सहायक लोको पायलट बनी थी। वर्तमान में पदोन्नति होने पर अब वह लोको पायलट बन गई हैं। वलसाड पश्चिम रेलवे के मुंबई डिवीजन में आता है। स्वर्णा से से पहले तक वलसाड में  कोई महिला लोको पायलट नहीं थी।

इंजीनियरिंग की पढ़ाई के बाद मिली रेलवे में नौकरी
रतलाम शहर में जन्मी स्वर्णा बचपन से ही होनहार रहीं।  स्वर्णा ने अपनी स्कूली शिक्षा रतलाम में प्राप्त की। कड़ी मेहनत और लगन से इलेक्ट्रॉनिक कम्युनिकेशन से इंजीनियरिंग की डिग्री पूर्ण की। उसके बाद उसकी रेलवे के मुम्बई डिवीजन के वलसाड में 2016 में सहायक लोको पायलट के पद पर नियुक्त हुई थी। बीते 6 वर्षों की मेहनत के बाद 24 जुलाई को पदोन्नति मिली है। स्वर्णा के पति राकेश हिरामण तायड़े भी वलसाड में रसायन एवं धातु-कर्मी अधीक्षक के पद पर नियुक्त हैंl


रतलामी फीवर के लिए हमें व्हाट्सएप पर ज्वाइन करे…

https://chat.whatsapp.com/I3cXSVVXvVF8Xo4OHT2A9t

न्यूज़ इंडिया 365 – खबरों का रतलामी फीवर के व्हाट्सएप ग्रुप में जुड़ने और महत्वपूर्ण समाचारो के साथ अपने को अपडेट रखने के लिए, ऊपर दी गयी लिंक पर क्लिक करे|


कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here