जिले में अतिवृष्टि को देखते हुए प्रशासन अलर्ट मोड पर, कलेक्टर नरेंद्र सूर्यवंशी रख रहें है नज़र…

0

News by – विवेक चौधरी

● जिला स्तरीय कंट्रोल रूम का सक्रिय
07412270416 पर कर सकते है संपर्क

रतलाम शनिवार 16 सितंबर 23। शुक्रवार शाम से रतलाम में लगातार कम ज्यादा बारिश हो रही है। लगातार हो रही बारिश की वजह से जिला प्रशासन को अलर्ट मोड पर आ गया है। कलेक्टर नरेंद्र सूर्यवंशी द्वारा स्थिति पर लगातार नजर रखी जा रही है। कलेक्टर के निर्देश पर तहसीलदार, नायब तहसीलदार, कोटवार, होमगार्ड के जवान, पुलिस जवान तथा अन्य विभागों का अमला सक्रियता से मूवमेंट करते हुए तालाबों, जल संरचनाओं, पुल पुलियाओं, नदियों पर सतत नजर रख रहा है। अब तक कोई अप्रिय सूचना नहीं प्राप्त हुई है। प्रशासन ने बताया है कि जिले में जिन स्थानों पर पर पुलिया रपट ओवरफ्लो है, वहां मौके पर नायाब तहसीलदारों को भेजा गया है। पुलिस एवं होमगार्ड के जवान तैनात किए गए हैं। पानी के बहाव पर सतत नजर रखी जा रही है। जहां पानी ओवरफ्लो है वहां वाहनों को पार करने से सख्ती से रोका जा रहा है।

जिले में जल संसाधन विभाग के समस्त 122 छोटे-बड़े तालाबों पर कर्मचारी तैनात किए गए हैं, जो तालाबों में जल बहाव की स्थिति पर नजर रख रहे हैं। विभाग के 98 छोटे तालाब तथा 22 बड़े बैराज है, जहां पर निगरानी दल तैनात है। शाम तक की स्थिति में विभाग के छोटे लगभग 70 तालाबों के वेस्ट वेयर चालू थे। सभी तालाब अपनी पूर्ण क्षमता में भर चुके हैं। शाम 4:00 बजे तक धोलावाड़ सरोज सरोवर के चार गेट खोले जा चुके थे।

जिले के बाजना क्षेत्र में प्रशासन द्वारा करण नदी और तेलनी नदी पर होमगार्ड के जवानों की तैनाती की गई है। सैलाना एसडीएम ने बताया कि ग्राम गोवर्धनपुरा में तेज हवा के बवंडर के कारण 7 किसानो की फसलों में नुकसानी हुई है, जिनका सर्वे करके आरबीसी 6_4 के तहत सहायता दी जाएगी। सैलाना नगरीय क्षेत्र के शिवगढ़ मार्ग पर पानी के कारण जाम की स्थिति का जायजा लेने के बाद प्रशासन द्वारा जेसीबी की मदद से पानी की निकासी कराई गई।

रतलाम ग्रामीण एसडीएम द्वारा बताया गया कि भदवासा से सिखेड़ी मार्ग पर गंगायता नदी पुल के ऊपर बहने के कारण आवागमन रोक दिया गया है। मऊ बिरमावल मार्ग तथा बिरमावल जबड़ा मार्ग पुलों के ऊपर पानी बहने के दृष्टिगत चौकीदारों की तैनाती कर दी गई है। छतरी जबड़ा मार्ग पर पुलिस जवान एवं चौकीदार तैनात किए गए है।
रतलाम शहर में राजस्व पुलिस तथा नगर निगम के समन्वय से निचली बस्तियों में सतत निगरानी रखी जा रही है। करमदी, कनेरी, मथुरी में रपट पर जल बहाव के कारण होमगार्ड जवानों तथा कोटवार को तैनात किया गया है। मौके पर नायब तहसीलदारों को भी भेजा गया है। वहीं जावरा एसडीएम द्वारा बताया गया कि जावरा अनुभाग में कहीं किसी मार्ग पर वर्षा के कारण यातायात अवरुद्ध नहीं है, प्रशासनिक अमला अलर्ट है।

आलोट एसडीएम द्वारा बताया गया कि अनुभाग में विगत रात्रि से जारी वर्षा के कारण ग्राम जोयन, थूरिया, किशनगढ़, धतुरिया, ददियाखेड़ी, भोजाखेड़ी, भूतिया आदि ग्रामों में क्षिप्रा नदी का जलस्तर बढ़ जाने से पुल, रपटो, पुलियाओ पर लगातार पानी का स्तर बढ़कर बहता रहा है। मौके पर संबंधित ग्रामों के कोटवार, ग्रामीणों को पुल से गुजरने से रोकने एवं आवागमन को रोकने के लिए उपस्थित रहे। वहीं ग्राम अवलिया सोलंकी तथा कस्बा आलोट के राम सिंह दरबार क्षेत्र में अत्यधिक वर्षा के कारण एक कच्चे मकान के गिरने की शिकायत तथा कुछ मकानों में बारिश का पानी घरों में घुसने से सामान के नुकसान की संबंधी शिकायतें प्राप्त हुई है। मौके पर संबंधित तहसीलदार एवं नायब तहसीलदार द्वारा जाकर प्रभावित व्यक्तियों के रुकने एवं भोजन के लिए ग्राम पंचायत तथा नगर परिषद के माध्यम से ग्राम पंचायत अरवलिया सोलंकी के पंचायत भवन तथा कस्बा क्षेत्र के रैन बसेरा भवन में व्यवस्था की गई है। अतिवृष्टि से मकान गिरने व पानी भरने से नुकसान की रिपोर्ट बनाकर आर्थिक सहायता हेतु प्रकरण स्वीकृत किए गए। किसी भी प्रकार की जनहानि या पशु हानि नहीं हुई।

जिला स्तरीय कंट्रोल रूम सक्रिय

वर्षा के दृष्टिगत जिला मुख्यालय पर स्थापित जिला स्तरीय कंट्रोल रूम द्वारा सक्रियता से कार्य किया जा रहा है कलेक्ट्रेट परिसर में स्थापित जिला स्तरीय कंट्रोल रूम का दूरभाष नंबर 07412270416 है। कंट्रोल रूम 24 घंटे कार्य कर रहा है, जिस पर बाढ़ अतिवृष्टि संबंधी कोई भी जानकारी दी जा सकती है