सीसीटीवी की मदद से रतलाम शहर में हुई नकबजनी का पर्दाफाश (खुलासा)…

0

पिछले कुछ दिनो में अन्तर्गत रतलाम शहर में कई स्थानो पर चोरीयो की वारदात घटित हो रही थी। जो कि पुलिस के लिये एक चुनौती थी। इस वारदातो के खुलासा व आरोपीगणो की धरपकड हेतु पुलिस अधीक्षक रतलाम राहुल कुमार लोढा एवं अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक रतलाम राकेश खाका तथा नगर पुलिस अधीक्षक अभिनव बारगे के निर्देशन में थाना स्टेशन रोड थाना प्रभारी बीआर वर्मा के निर्देशन में चोकी प्रभारी सालाखेडी उप निरीक्षक शरीफ खान की टीम गठित की गई ।

जिसके द्वारा घटना स्थल व आसपास के CCTV कैमरे चेक किये गये व मुखबिर तंत्र सक्रिय किया गया थाना स्टेशन रोड के अपराध क्रमांक 627/2023 धारा 457.380 भादवि में नकबजनी की वारदात में मुख्य आरोपी थाना स्टेशन रोड का निगरानी बदमाश असलम उर्फ मोगली पिता अफजल निवासी सुदामानगर रतलाम एवं उसका साथी उमेर उर्फ सन्ना पिता युसुफ खान ने मिलकर दिनांक 18.08.2023 को रात करीब 03.00 बजे अर्जुननगर रतलाम में फरियादी नारायण पिता मुलचन्द्र निवासी अर्जुनगर रतलाम के घर में छत से कुदकर नकबजनी चोरी करना तथा चांदी के जेवर कन्दोरा दो वजनी करीब 01 किलोग्राम एव सेमसंग कंपनी का इन्ड्राईड मोबाईल चोरी करना स्वीकार किया चोरी का मोबाईल इमरान उर्फ गोरी पिता युनुस शाह निवासी पटेलनगर खजराना इन्दोर को देना बताया। आरोपीगण से चोरी का सेमसग कंपनी का मोबाईल चादी जेवरात के कन्दोरा 02 वजनी 01 किलोग्राम जप्ती किये जाकर करीब 01 लाख रुपये का मक्षुका बरामदकिया है।

आरोपीयों के नामः-
1- इमरान शाह उर्फ गोरी पिता युनुस शाह म्स उम्र 29 बर्ष निवासी म. न. 09 रोशन नगर इन्दोर हाल पटेल नगर खजराना इन्दोर
2- असलम उर्फ मोगली पिता अफजल मुस उम्र 32 बर्ष निवासी सुदामा परिसर गली न.01 रतलाम जिला रतलाम- निगरानी बदमाश
3- उमेर उर्फ सन्ना पात युसुफ खान मुस उम्र 38 बर्ष निवासी हाथीखाना हाल मुकाम अर्जुननगर रतलाम जिलारतलाम- गुण्डा

आरोपीयो से जप्तीः-
आरोपीगण से चोरी गया चादी के जेवरात कन्दौरा 02 तथा सेमसंग कंपनी का मोबाईल किमती करीब 01 लाख रुपये

टीम के सदस्य
घटना का खुलासा करने में शामिल टीम में थाना प्रभारी स्टेशन रोड निरीक्षक बीआर वर्मा, चौकी प्रभारी उप निरीक्षक शरीफ खान प्रधान आर 426 कृपांशकर कटियार, प्रधान आर लाखनसिह आर 315 दीपक आर. 198 जितेन्द्रसिह आर 797 रितेश यादव तथा सायबर टीम प्रभारी उप निरीक्षक अमीत शर्मा, आर. 1098 मंयक व्यास आर विपुल की भूमिका सराहनीय रही हैं।