कलेक्टर ने की जनसुनवाई रद्द, पुलिस “वर्क फ्रॉम होम” के तर्ज पर करेगी व्यवस्था, जानिए क्या है पूरा मामला?

0

News By – विवेक चौधरी

रतलाम, 16 मार्च 2020/ कोरोना वायरस के खौफ ने विश्व के अनेक देशों में वर्क फ्रॉम होम की कार्य संस्कृति को बढ़ावा दिया हैं। कार्यालयों में भीड़ और संक्रमण से बचने के लिए घर से काम करने का प्रबंध हो रहा है। उसी तर्ज पर रतलाम पुलिस विभाग ने अपने कप्तान गौरव तिवारी के नेतृत्व में अपने विभाग के कार्यालयों में भीड़ कम करने का प्रबंध करने का प्रयत्न किया है। विभाग द्वारा आम जनता को घर बैठे पुलिस से अपनी बात कहने की व्यवस्था हो रही है। कोरोना वायरस के प्रसार एवं बचाव के संबंध में शासन द्वारा सार्वजनिक समारोह, जुलूस, गैर, सामूहिक भोजन आदि कार्यक्रमो पर प्रतिबंध के संबंध मे गाईड लाइन भी जारी की जा चुकी है। कलेक्टर रतलाम रुचिका चौहान द्वारा भी जिले में विभिन्न प्रतिबंध लागू करने की सूचना जारी की गई हैं। लागू किए गए प्रतिबंधों के अंतर्गत सिनेमा हॉल, मैरिज हाल, सार्वजनिक पुस्तकालय, वाटर पार्क, जिम, स्विमिंग पूल, कोचिंग सेंटर तथा कर्मचारियों की बायोमेट्रिक उपस्थिति पूरे जिले में आगामी 31 मार्च तक बंद रहेगी। कलेक्टर जनसुनवाई भी आगामी 31 मार्च तक स्थगित रहेगी। उसी तारतम्य में रतलाम पुलिस विभाग भी भीड़ से बचाव का मार्ग अपना रहा है। विभाग ने आम जनता स्वयं उपस्थित ना होकर पत्र, व्हाट्सऐप और ईमेल से अपने घर बैठे अपनी समस्या साझा करने का प्रबंध किया हैं।

पुलिस विभाग द्वारा जारी सूचना के अनुसार वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों के कार्यालयो में आम जनता अपनी शिकायत लेकर बड़ी संख्या में आते है। वे एक दूसरे के संपर्क में भी आते है, जिससे वायरस के संक्रमण की आशंका अत्यधिक बढ़ जाती है। इस स्थिति को ध्यान में रखते हुए जो भी आवेदक कोरोना वायरस के संक्रमण को देखते हुए स्वयं अपनी समस्या लेकर नहीं आना चाहते हो, तो वो आवेदक / शिकायतकर्ता अपनी शिकायत लेकर पुलिस अधीक्षक कार्यालय अथवा अन्य वरिष्ठ अधिकारियों के पास जाने की बजाय फोन, व्हाट्सएप अथवा ईमेल के माध्यम से भी अपनी शिकायत को प्रेषित कर सकता हैं। जिसकी सुनवाई तत्परतापूर्वक की जावेगी तथा शिकायतकर्ता की समस्या का वैधानिक समाधान किया जायेगा। आवेदक फोन नंबर :- 07412-270473, 270474 या मोबाइल नंबर:- 7049162265 पर कॉल द्वारा या व्हाट्सऐप के माध्यम से अथवा ईमेल आईडी [email protected] पर ई-मेल के माध्यम से अपनी शिकायत आदि भेज सकते है।